बिहार में BJP-JDU के खाते में 17-17 सीटें तो, लोजपा को मिली 6 लोकसभा सीट

0
301

नई दिल्ली: लगातार गठबंधन टूटने की खबरों के बीच आखिरकार आज बिहार में बीजेपी, जेडीयू और लोजपा के बीच सीट बंटवारे को लेकर सहमती बन गई और पार्टियों की तरफ से ये ऐलान कर दिया गया कि कौन-सी पार्टी कितनी सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ेगी। कई बार हुई बैठकों के बाद पार्टियों की तरफ से फैसला लिया गया है कि बिहार में बीजेपी और जेडीयू 17-17 सीटों और लोजपा 6 सीटों पर चुनाव लड़ने जा रही है और साथ ही रामविलास पासवान को राज्यसभा भेजा जाएगा।

आज सुबह एक बार फिर से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के आवास पर बैठक हुई जिसमें बिहार के सीएम नीतीश कुमार, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और उनके बेटे सांसद चिराग पासवान भी मौजूद रहे। इस बैठक के बाद तीनों ही पार्टियों की तरफ से एकसाथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई और सीटों के बंटवारे को लेकर ये ऐलान किया गया।  इस घोषणा के बाद शाह ने जहां 2019 में 2014 से ज्यादा सीटें जीतने का दावा किया, वहीं नीतीश कुमार ने कहा है कि एनडीए बिहार में 2009 से भी अधिक सीटें जीतेगी।

सीट बंटवारे के ऐलान के दौरान नीतीश कुमार ने कहा कि ‘जब अमित शाह ने घोषणा कर दी तो उसके बाद कुछ बोलने की आवश्यकता नहीं है तो हम सब मिलकर आगे तय करेंगे। किस सीट पर कौन लड़ेगा। आज सीट शेयरिंग तय हो गई है।’ उन्होंने कहा कि, ‘हम बिहार में अच्छी सफलता हासिल करेंगे। मुझे जरूरत से ज्यादा बोलने की आदत नहीं है। 2009 में बिहार में बीजेपी और जेडीयू का गठबंधन था, बिहार में 40 में से 32 सीटें हमने हासिल की थीं। 2009 से भी ज्यादा सीटों पर जीतेंगे। हम लोग मिलकर सशक्त अभियान चलाएंगे।’

बीजेपी को हुआ नुकसान

आपको बता दें कि बीजेपी ने साल 2014 में हुए लोकसभा चुनावों में बिहार में 30 सीटों पर चुनाव लड़ा था जबकि लोजपा ने 7 और रालोसपा ने तीन सीटों पर चुनाव लड़ा था। आपको बता दें कि 2014 के आम चुनावों में नीतीश कुमार ने बीजेपी से गठबंधन तोड़ लिया था। वहीं इस बार जेडीयू के साथ आने पर बीजेपी को काफी सीटों का नुकसान उठाना पड़ा है। 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here