हरियाणा में बीजेपी-कांग्रेस को लगा झटका, जेजेपी में शामिल हुए ये नेता

0
3257

हिसार: प्रदेश में होने वाले विधानसभा और आगामी लोकसभा चुनावों से पहले बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही मुख्य दलों को बड़ा झटका लगा है। दरअसल, हिसार नलवा हलके में वार्ड 16 से बीजेपी जिला पार्षद मंजू प्रजापति सहित वर्तमान ग्राम पंचायत के चार सदस्यों ने भाजपा छोड़ कर जननायक जनता पार्टी में शामिल होने का ऐलान किया है। वहीं हिसार जिले के कांग्रेस सेवा दल के जिला अध्यक्ष राजीव कौशिक ने कांग्रेस छोड़ कर जेजेपी का दामन थाम लिया है। भाजपा और कांग्रेस के ये पदाधिकारी गांव गंगवा में सांसद दुष्यंत चौटाला की उपस्थिति में एक कार्यक्रम का आयोजन कर जेजेपी परिवार का सदस्य बने। उनके अलावा सैंकड़ों लोगों ने भी जेजेपी में शामिल होने की घोषणा की। शामिल होने वालों में प्रमुख रूप से गंगवा गांव की पूर्व सरपंच भरपाई देवी, वर्तमान पंचायत सदस्य राजबीर, रामजीलाल, रामकिशन, जगतपाल, पूर्व पंच लीलूराम, ओमप्रकाश टाक, दिनेश मलिक, रणबीर पंघाल, गोपीराम हरिकोट, आदि शामिल हैं।

जिला पार्षद मंजू प्रजापति के पति व कुम्हार महासभा के महासचिव कृष्ण गंगवा ने सांसद दुष्यंत चौटाला का गंगवा गांव में पहुंचने पर पगड़ी पहनाकर स्वागत किया। ग्रामीणों ने सांसद पर फूल बरसाए और उनका अभिनंदन किया।  तो वहीं सांसद दुष्यंत चौटाला ने पार्टी का झंडा देकर मंजू प्रजापति, कृष्ण प्रजापति, राजीव कौशिक व अन्यों को पार्टी का झंडा देकर जेजेपी परिवार में शामिल किया। 

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि आज कृष्ण गंगवा व उनकी पत्नी मंजू सहित अन्य लोग जेजेपी में शामिल हुए हैं उनका पार्टी में स्वागत है। युवा सांसद ने कहा कि जेजेपी को लेकर लोगों में खासा उत्साह है और प्रदेश के लोग जेजेपी को प्रदेश में एक राजनीतिक विकल्प के रूप में देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम सबको साथ लेकर उन्नत व नया हरियाणा बनाने के लिए कृतसंकल्प हैं।  सांसद ने कहा कि जिला पार्षद प्रतिनिधि कृष्ण गंगवा, राजीव कौशिक व उसकी समस्त टीम को जेजेपी में पूरा मान-सम्मान मिलेगा। 

सांसद ने कहा पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे जेजेपी की नीतियों का घर-घर जाकर प्रचार करें और एक बूथ दस यूथ को प्रभावी ढंग से क्रिन्यावित करें। उन्होंने कहा कि लोकसभा व विधानसभा चुनाव में अब कुछ ही समय शेष है और आगामी दिनों में चुनावों कीघोषणा हो जाएगी। इसलिए बूथ लेवल पर पार्टी को मजबूत करने के लिए अभी से कार्यकर्ता जुट जाएं। 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here