योगी राज में अखिलेश का ‘उड़ना’ है मना, इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में बजी पुलिस की लाठियां

0
224

इलाहाबाद: उत्तर प्रदेश में एकबार फिर से सियासत और एक-दूसरे पर आरोप लगाने का सिलसिला शुरु हो गया है। दरअसल, उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के शपथग्रण समारोह में शामिल होने जा रहे थे। लेकिन अखिलेश को एयरपोर्ट पर ही रोक लिया गया जिसके बाद पुलिसकर्मियों के साथ सपा अध्यक्ष की नोक-झोंक भी हुई।

आपको बता दें कि इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के इस कार्यक्रम में अखिलेश यादव को बतौर मुख्य अतिथि बुलाया गया था। एयरपोर्ट पर रोके जाने के बाद अखिलेश यादव ने इस पर ट्वीट कर विरोध जताया। उन्होंने कहा कि उन्हें इलाहाबाद यूनिवर्सिटी जाने से रोका जा रहा है। अखिलेश को रोके जाने के बाद समाजवादी पार्टी इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन कर रही है। इस दौरान पुलिस ने वहां लाठीचार्ज किया, जिसमें बदायूं सांसद धर्मेंद्र यादव घायल हो गए हैं। बता दें कि धर्मेंद्र यादव समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ प्रदर्शन कर रहे थे।

अखिलेश यादव लगातार प्रदेश की योगी सरकार पर हमलावर नजर आ रहे हैं। अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘मुझे लखनऊ एयरपोर्ट पर बंधक बनाया गया है। बिना किसी लिखित आदेश के मुझे हवाई जहाज पर चढ़ने से रोका जा रहा है। इससे साफ है कि सरकार छात्रसंघ के शपथग्रहण समारोह से कितनी डरी हुई है। बीजेपी जानती है कि देश के युवा इस अन्याय को बर्दाश्त नहीं करेंगे।’ वहीं इस मामले पर सीएम योगी आदित्यनाथ का कहना है कि व्यवस्था की समस्या खड़ी होने की आशंका की वजह से अखिलेश को रोका गया है।

इस मामले पर राज्य के प्रिंसिपल सेक्रेटरी अरविंद कुमार ने अपने बयान में कहा है, ‘प्रतिद्वंद्वी छात्र गुटों में बैर को देखते हुए शांति भंग की आशंका थी, जिसकी वजह से यूनिवर्सिटी प्रशासन ने कैम्पस में किसी राजनीतिक कार्यक्रम की इजाजत नहीं दी और इसकी जानकारी भी दे दी गई। कुंभ की वजह से पहले से ही प्रयागराज में काफी भीड़ है। जिला प्रशासन ने माननीय पूर्व सीएम के कार्यालय और लखनऊ के डीएम को इसके बारे में जानकारी भी दे दी थी।’

  

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here