मृत गोवंश और अन्य आवारा पशुओं को खुला ना छोड़ने कोे लेकर युवाओं ने फैलाई जागरूकता, रोकने की कोशिश जारी।

0
232

महेंद्रगढ़ शहर से देवास रोड के नजदीक मौदा आश्रम के पास नगरपालिका की जमीन पर मृत गोवंश और अन्य आवारा पशुओं को जमीन के अंदर दबाने की बजाय जमीन के उपर ही डाल देते है। जिससे वहां धूमने वाले आवारा कुते उस पशु को आसानी से अपना भोजन बनाते है और उसकी हड्डीयों को इधर-उधर डाल देते है। इसके कारण वातावरण तो दूषित होता ही है साथ में उसकी दुर्गंध इतनी अधिक होती है कि वहां से गुजरने वाले रहागीरों को भी बहुत भारी परेशानी होती है। इसकी वजह से किसी भी तरह की बीमारी होने का खतरा भी बना होता है।

इसके बारे में शहर के कुछ जागरूक युवाओं ने वहां पहुंच कर देखा कि तभी एक गौशाला ट्रस्ट की गाड़ी वहां आकर एक गाय के मृत बच्चें को गड्डे में दबा कर चले गऐ तभी वहां उपस्थित लोगों ने उनको रोका और अधिकारियों को मौके पर बुला कर मुआयना करवाया। मौके पर पहुंचे तहसीलदार सुभाषचंद और नगरपालिका के जेई राहुल ने उच्च अधिकारियों से बात कर इन सभी को जेशीबी मशीन बुलाकर खुले मे पड़े गोवंश को गड्डे के अंदर दफनाया। साथ ही उन्होंने कहा कि जल्द ही गोशालाओं के लोगों को बुलाकर एक बैठक की जाएगी, जिसमें उनको दिशा निर्देश दिए जाएगें। इसके बाद डीएपी विनोद कुमार भी मौके पर पहुंचे और वहां के एक ट्रस्ट की एंबुलेंस को भी अपने कब्जे में लेकर पूछताछ के लिए साथ ले गये।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here