एयर होस्टेस बनी मसीहा, बचाई मुसीबत में फंसे 31 लोगों की जान

0
68

हरियाणा न्यूज- रुस में हुए विमान हादसे में 41 लोगों की जान चली गई।  लेकिन इस हादसे में एक एयर होस्टेस ने मसीहा की तरह लोगों की जान बचाई जिसकी पूरी दुनिया में जमकर तारीफ हो रही है।

विमान रुस की राजधानी मास्को से उड़ान भर कर उतरी शहर मरमांस्क जा रहा था। लेकिन टेकऑफ के बाद विमान में आग लग गई. जिस कारण विमान को इमरजेंसी लैंडिंग करनी पड़ी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, 34 वर्षीय एयर होस्टेज ततयाना कसाटकिना ने अपनी बहादुरी से 31 लोगों की जान बचाई जैसे विमान में आग लगी लोगों में अफरातफरी का माहौल बन गया। हर कोई चीख रहा था। और अपनी जान बचाने के लिए लोग भाग रहे थे। ततयाना ने अपने पैर से एमरजेंसी का दरवाजा खोला और लोगों को कॉलर पकड़ कर बाहर फैंकना शुरु कर दिया।

 ततयाना ने बताया कि उसे कुछ दिखाई नही दे रहा था, सब कुछ इतनी जल्दी हुआ काला धुआं हर तरफ फैल गया था. विमान की आखिरी कतार में फंसे लोग बाहर निकलने के लिए चिल्ला रहे थे. हर कोई अपनी सीट से कूदकर आगे की तरफ दौड़ रहा था.लेकिन सम्सया ये थी कि लोग अपने सामान को भी अपने साथ ले जाने की कोशिश कर रहे थे। जिस कारण रास्ता बॉल्क हो रहा था। ततयाना ने अपनी पूरी ताकत से लोगो बाहर की तरफ फैंके जा रही थी। जिस कारण 31 लागो की जान बच पाई।

इस हादसे में स्टेवर्ड मैक्सिम मोइसीव की भी मौत हो गई थी. वह एयरक्राफ्ट का रीयर डोर खोलने की कोशिश कर रहे थे। ताकी लोगों को विमान से और जल्दी बाहर निकाला जा सके।

 यात्री एक शख्स को भी जिम्मेदार ठहरा रहे हैं जो अपने सामान को ले जाने की लिए काफी देर तक बीच में ही खड़ा रहा। जिस कारण कुछ यात्री आग की चपेट में आ गए लेकिन वो शख्स अपनी जान बचाने में कामयाब रहा। विमान हादसे में बचे लोग एयर होस्टेस का शुक्रिया अदा कर रहे है जिन्होंने मुसीबत के समय में उनकी जान बचाई ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here