पिछली सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे कई बड़े दिग्गज नेता इस बार मोदी कैबिनेट से बाहर…

0
58

हरियाणा न्यूज़: इस बार मोदी कैबिनेट में कई नए चेहरे को जगह मिली है और साथ ही कई पुराने दिग्गजों को इस बार कैबिनेट से बाहर रखा गया है। आपको बता दें कि, इस बार की कैबिनेट में से दो ऐसे नेता गायब हैं जिनका पिछले कैबिनेट में खासा असर देखा गया। जी हां, सुषमा स्वराज और अरुण जेटली ये दो वो बड़े नाम हैं जिन पर पिछली कैबिनेट का काफी दारमोदार था लेकिन इस बार इन दोनों ने ही कैबिनेट से दूरी बनाई है।

कई दिग्गज नेताओं को नही मिला मौका:
बात अरुण जेटली की करें तो उनकी सेहत ऐसी नहीं है कि वे मंत्री पद का कार्यभार संभाल सकें। लेकिन सुषमा स्वराज की बात की जाए तो इस बार उन्होंने लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ा था, पिछले साल के कार्यकाल में सुषमा अपने काम को लेकर जनता के बीच काफी पंसद की जाने वाली नेता रही हैं।

विदेश मंत्री के तौर पर वे प्रवासी भारतीयों और ट्वीट मात्र पर कई लोगों की मदद के लिए भी काफी लोकप्रिय रही थीं। उन्होंने इस बार लोकसभा चुनाव भी नहीं लड़ा था। उन्होंने कहा था कि उनका स्वास्थ्य सही नहीं है कि वहां चुनाव का प्रचार प्रसार कर सके।

मोदी कैबिनेट में इन नेताओं के आलाव भी कई और ऐसे नेता रहे हैं जिन्हें मोदी सरकार में मंत्री की जगह नहीं मिली है। शपथ समारोह में केंद्रीय मंत्रियों के साथ कई राज्य मंत्रियों को भी इस बार कैबिनेट में मौका नहीं मिला है। पिछली बार के मंत्रियों की बात करे, तो मेनका गांधी, सुरेश प्रभु, जेपी नड्डा, राधामोहन सिंह राज्यवर्धन सिंह राठौर भी कैबिनेट में शामिल नहीं किए गए है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here