अंतरराष्ट्रीय ड्रग एब्यूज डे पर रतिया में किया गया मैराथन दौड़ का आयोजन

0
215

हरियाणा न्यूज: अंतरराष्ट्रीय ड्रग एब्यूज डे पर आज रतिया में मैराथन दौड़ का आयोजन किया गया। पुलिस अधीक्षक विजय प्रताप सिंह ने मैराथन को रवाना किया। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक ने लोगों को नशे के दुष्परिणामों के बारे में जागरुक किया और उन्हें नशे से तौबा करने के लिए शपथ भी दिलवाई। एसपी ने कहा कि नशा एक ऐसी बुराई है जो न केवल परिवार को खत्म कर देती है बल्कि पूरे समाज में कैंसर की तरह फैलकर उसे भी समाप्त कर सकती है।

उन्होंने खासकर युवाओं से अपील की है कि वे नशे से दूर रहे हैं और अपना ध्यान खेलकूद की तरफ लगाएं। उन्होंने कहा कि नशे की रोकथाम के लिए पुलिस अपना भरसक प्रयास कर रही है, लेकिन उसमें सामाजिक भागीदारी भी जरूरी है। मीडिया से बातचीत के दौरान एसपी ने माना कि अन्य राज्यों की सीमाओं से सटे होने के कारण बहुत से स्थानों से नशा तस्कर बड़ी आसानी से इलाके में घुस आते हैं फिर निकल भी जाते हैं। इन्हें रोकने के लिए मनुयल मॉनिटरिंग की बजाए आज डिजिटल मॉनिटरिंग की जरूरत है।

आपको बता दे कि फतेहाबाद जिला नशेड़ियों और नशा तस्करों के लिए स्वर्ग बना हुआ है। यहां बड़े पैमाने पर नशा तस्कर के मामले सामने आ रहे हैं। यहां तक कि अब तो महिलाएं भी नशा तस्करी करने में सामने आने लगी हैं। नशे को लेकर करीब एक वर्ष पूर्व पांच राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने एक बैठक कर बढ़ते नशे के जाल पर चिंता जताई थी और इसकी रोकथाम के लिए पुख्ता प्रबंध करने की बात भी कही गई थी, मगर वो भी कागाजी साबित हुई है।  

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here