BSNL के मुद्दे पर सुरजेवाला ने घेरा बीजेपी को…कहा कंपनी को ठप्प करने में हाथ

0
121

हरियाणा न्यूज़:भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) की कुछ सालों से स्थिति सही नहीं है। साथ ही कंपनी को बंद करनी की भी बात हो रही है। इस मुद्दे पर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस के रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि पूंजीपति मित्रों की हितैषी बीजेपी सरकार का बीएसएनएल को डुबोने का पूरा प्लान बना लिया है।सरकार के बकाया बिजली बिल के चलते पहले ही बीएसएनएल के 1083 टॉवर्स और 524 एक्सचेंड ठप्प हो गया हैं। जिससे करोड़ों यूजर्स परेशान होंगे। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की मंशा तिल तिल कर बीएसएनएल को कमजोर करने की है, ताकि उसे बेचा जा सके।

बता दें कि कुछ समय से बीएसएनएल ने कंपनी को बंद करने की बात चल रही थी। जिसे लेकर कंपनी ने कहा ये बस एक अफवाह है। ऐसा कोई प्रस्ताव ऐसा नहीं है।बता दें कि कड़ी प्रतिस्पर्धा और टैरिफ कम होने के कारण, बीएसएनएल पिछले कुछ महीनों से वित्तीय संकट का सामना कर रहा है।

बता दें कि वित्तीय संकट कम करने के लिए केंद्र सरकार बीएसएनएल के लिए योजना बना रही है, जिसे कैबिनेट की मंजूरी के लिए भेजा जाएगा। इस पर सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद की ओर से लोकसभा में दिए गए एक लिखित जवाब के मुताबिक, बीएसएनएल को वित्त वर्ष 2018-19 में 14,000 करोड़ रुपए का घाटा होने का अनुमान है। जबकि इसका राजस्व करीब 19,308 करोड़ रुपए रहने का अनुमान है।

वेतन पर बीएसएनएल का खर्च कंपनी के कुल खर्च 14,4888 करोड़ रुपए का 75 फीसदी रहने का अनुमान है। कंपनी का अस्थायी घाटा 2015-16 में 4,859 करोड़ रुपए, 2016-17 में 4,793 करोड़ रुपए और 2017-18 में 7,993 करोड़ रुपए था। बीएसएनएल का घाटा 2018-19 में बढ़कर 14,202 करोड़ रुपए होने का अनुमान है। सरकार बीएसएनएल और एमटीएनएल में सुधार लाने की योजना बना रही है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here