सर्वोच्च न्यायालय के प्रतिबंध के बावजूद हो रहा है अवैध खनन

0
370

हरियाणा न्यूज़: सतनाली क्षेत्र के गांव डिगरोता में अरावली पर्वत श्रृंखला काफी विस्तृत रूप से फैली है।जिस पर सर्वोच्च न्यायालय के प्रतिबंध के आदेशों के बावजूद पिछले काफी समय से डिगरोता गांव की अरावली पर्वत श्रखलाओं में अवैध खनन धड़ल्ले से किया जा रहा है।

आपकों बता दे कि अरावली पर्वत श्रृंखला पर सुप्रीम कोर्ट ने खनन माफिया पर प्रतिबंध लगाया हुआ है। इसके बाद भी खनन माफिया द्वारा अवैध खनन बड़े ही जोर-शोर से चल रहा है। खनन माफिया अरावली पर्वत श्रृंखला से प्रतिदिन सैकड़ों की ट्रैक्टर ट्रालियों पत्थर निकालकर आसपास के गांवो में सप्लाई करते है। ये टैक्टर मालिक 2000 से 3000 रुपये प्रति ट्राली लोगों से वसूलते है।

अरावली पर्वत श्रृंखला में बड़े पैमाने पर हो रहे अवैध खनन से प्रशासन के अवैध खनन रोकने के तमाम दावों की पोल खुल रही है। गौर करने लायक यह बात है कि सरकार द्वारा प्रतिवर्ष लाखों रुपयें खर्च करके अरावली पर्वत श्रृंखलाओं के सौंदर्यकरण व इसे हरा भरा बनाने के लिये बडी मात्रा में वृक्षारोपण किया गया था।लेकिन अवैध खनन कार्य के जोर पकड़ने के साथ ही लगाए गये पेड़-पौधे भी नष्ट हो गये हैं।

अवैध खनन का सारा कार्य अधिकारियों की मिलीभगत से ही हो रहा हैं। अवैध खनन के इस कार्य के जोर पकड़ने से सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की अवहेलना तो हो ही रही है साथ ही प्राकृतिक संपदा को बचाने के लिये सरकार के प्रयास व दावे भी धरे के धरे रह गये हैं। लोगों ने सरकार से इस पूरे मामले की उच्चस्तरीय जांच व दोषियो के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here