दम तोड़ रहा है ‘बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं’ का नारा, एक और सरकारी स्कूल पर छात्राओं ने जड़ा ताला

0
21

हरियाणा न्यूज: प्रदेश को शिक्षा का हब बनाने के बड़े-बड़े दावे किए जाते हैं और इन्ही दावों के बीच हकीकत को दर्शाती कुछ तस्वीरें भी सामने आती है जो ये बताती है कि प्रदेश में शिक्षा का बुनियादी स्तर क्या है। ऐसा ही एक मामला सामने आया है रोहतक के गांव सुदाना से जहां के शहीद वजीर सिंह राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय पर स्कूल की छात्राओं ने ताला जड़ दिया। दरअसल, इसका कारण है कि इस स्कूल सभी छात्रों को बीच सत्र में ही शिफ्ट किया जा रहा है।

परेशानी सिर्फ इतनी ही नहीं है छात्राओं का आरोप है कि जिस स्कूल में बीच सत्र में उन्हें भेजा जा रहा है वो गांव से करीब 5 किलोमीटर की दूरी पर है और वहीं जाने के लिए आवागमन का कोई साधन नही हैं। जिससे उनके सामने एक बहुत बड़ी समस्या आ खड़ी हुई है। स्कूल की छात्राओं ने बताया कि सरकार ने साइंस और अर्थ शास्त्र के पद को इस स्कूल में समाप्त कर दिया है। एक तरफ तो सरकार बेटी बचाओ बेटी पढाओं की बात करती है वहीं दूसरी ओर सरकार हमारे सपनों पर कुठाराघात कर रही है।

उनका ये भी कहना है कि इतनी दूर जाने में वे सुरक्षित भी नहीं रहेगी। वहीं इस पूरे मामले पर बीईओ का कहना है कि जहां सांईस के 20 से कम बच्चे है उन्हें शिफ्ट किया जा रहा है। सरकार की पॉलिसी है कि इतने कम बच्चों पर पोस्ट नहीं दी जा सकती। बच्चियों की सुरक्षा के सवाल पर उन्होने कहा कि अगर बच्चों को शिफ्ट किया जायेगा तो उन्हें आने जाने के लिए सुविधा दी जाएगी।  

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here