दिल्ली सरकार ने दिया लाखों पैरेंट्स को तोहफा, इन छात्रों को अब नहीं देनी होगी परीक्षा फीस

0
83

हरियाणा न्यूज: विधानसभा चुनावों को नजदीक आते देख दिल्ली सरकार जनता को एक के बाद एक नए तोहफे दे रही है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को एक और बड़ी घोषणा की। आपको बता दें कि दिल्ली सरकार के स्कूलों और सहायता प्राप्त स्कूलों में छात्रों को CBSE की कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षा के लिए कोई शुल्क नहीं देना होगा, इस पर राज्य सरकार ही पूरा खर्च वहन करेगी। सिसोदिया ने कहा कि शुल्क वृद्धि को वापस लेने के लिए CBSE के साथ चर्चा जारी है।

उपमुख्यमंत्री ने कहा, “दिल्ली सरकार के स्कूलों और सहायता प्राप्त स्कूलों में छात्रों को सीबीएसई की कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षा के लिए कोई शुल्क नहीं देना होगा और दिल्ली सरकार सभी श्रेणियों के छात्रों के लिए पूरा खर्च वहन करेगी और इसके तौर-तरीकों पर काम किया जा रहा है। दिल्ली सरकार शुल्क वृद्धि को वापस लिये जाने के संबंध में सीबीएसई के साथ विचार-विमर्श कर रही है। चाहे जो भी हो, किसी भी छात्र पर बोझ नहीं पड़ेगा क्योंकि सरकार इस खर्च को वहन करेगी”।

आपको बता दें कि कक्षा 10वीं और 12वीं के सामान्य वर्ग के छात्रों के शुल्क में भी दोगुनी वृद्धि की गई है और अब उन्हें पांच विषयों के लिए 750 रुपये के स्थान पर 1500 रुपये देने होंगे। इसी के साथ SC, ST के छात्रों से 350 रुपये शुल्क लिया जाता था। जिसमें 300 रुपए का भुगतान दिल्ली सरकार करती थी और बाकि बचे 50 रुपए छात्रों द्वारा दिया जाता था। CBSE ने नोटिफिकेशन में बताया कि यह मामला दिल्ली सरकार का आंतरिक मामला है। वहीं, पूरे देश में सभी छात्रों की फीस 750 रुपए थी, जिसे बढ़ा कर 1500 रुपए कर दी गई है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here