पानीपत में मात्र 30 सेकंड में ध्वस्त किये गये थर्मल पावर प्लांट के 344 फीट ऊंचे 3 टावर

0
69

हरियाणा न्यूज: देश के पूर्व राष्ट्रपति नीलम संजीव रेड्डी के द्वारा उद्घाटन की गई पानीपत थर्मल पावर यूनिट की तीन कूलिंग टावर को ब्लास्ट के जरिए ध्वस्त किया गया। चारों कूलिंग टावर कंडम हो चुके सरकार का आर्थिक नुकसान कर रही थी। एक कूलिंग टावर 15 दिन पहले ध्वस्त किया था, वहीं आज तीन कूलिंग टावर को ध्वस्त किया गया।

आपको बता दें कि तीनों टावरों को ध्वस्त करने में 650 किलोग्राम विस्फोटक का प्रयोग किया गया था। एक कूलिंग टावर की हाइट 105 मीटर थी। वहीं 30 सेकंड में तीनों टावरों को ध्वस्त किया गया था।  हर एक कूलिंग टावर में 80 पिलर थे, सभी कूलिंग टावर में ब्लास्ट के लिए 2000 छेद किए गए थे। देश में पहली बार ऐसा किसी थर्मल टावरों को ध्वस्त किया गया हैं।

थर्मल पावर यूनिट के चीफ इंजीनियर श्याम लाल सचदेवा ने बताया कि, थर्मल के ये तीन कूलिंग टावर कंडम हो चुके थे और इन यूनिटों पर सरकार का काफी पैसा खर्च हो रहा है तो सरकार के आदेश अनुसार इन तीनों कूलिंग टावर को ब्लास्ट कर इसे नष्ट किया गया। सचदेवा ने बताया कि 15 दिन पहले एक कूलिंग पावर टावर को ट्रायल  के लिए गिराया गया था, सफलता होने के बाद आज बाकी तीन टावर इस पर कार्रवाई करते हुए इसे गिराया गया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here