रेत की खुदाई के दौरान मिले पौराणिक मूर्तियों के दर्शन के लिए पहुंचे सीएम मनोहर लाल

0
27

हरियाणा न्यूज: रेत की खुदाई के दौरान मिले पौराणिक मूर्तियों के दर्शन के लिए प्रदेश सीएम मनोहर लाल गांव फरीदपुर पहुंचें। जहां उन्होंने शिवलिंग की पूजा अर्चना की। प्रदेश सीएम मनोहर लाल ने कहा कि फरीदपुर गांव आज देश और दुनिया की नजरों में आ चुका है। पौराणिक शिवलिंग के दर्शन और पूजा मेरे जीवन का यादगार अवसर है।

सीएम ने कहा कि हजारों वर्ष प्राचीन धरोहर मिलने से इस स्थल का महत्व बढ़ा। देश और दुनिया के लोग कैसे यहां तक पहुंचे इस पर विचार किया जाएगा। इसके अलावा इस क्षेत्र की रिसर्च की जाएगी, हो सकता है यहां पर अन्य अवशेष भी दबे हो। प्राचीन संस्कृति के बारे में जानकारी मिलने से टूरिज्म को बढ़ावा मिलेगा।

यहां के महत्व और आस्था को देखते हुए सरकार आगे काम करेगी। शिवलिंग और नंदीगण की पूजा करने के बाद सीएम मनोहर लाल फरीदपुर गांव के नजदीक बनी रेत की खदान में उस स्थान पर पहुंचें, जहां पर शिवलिंग और अन्य पौराणिक अवशेष मिले थे। यहां उन्होंने जिला उपायुक्त को रिसर्च के निर्देश जारी किए। सीएम के आगमन को लेकर ग्रामीणों में भारी उत्साह नजर आया।

बता दें कि रविवार की देर रात फरीदपुर गांव के पास रेत की खदान पोपलेन मशीन से रेत की खुदाई का काम चल रहा था। इसी दौरान शिवलिंग और नंदीगण के साथ पौराणिक स्तंभ मिले थे। हालांकि एक गाड़ी में इन सब पौराणिक वस्तुओं को लेकर कुछ लोग चरखीदादरी की तरफ चले गए थे। लेकिन गांव के युवाओं ने गाड़ी का पीछा किया और इन सभी वस्तुओं को वापिस ले आए। धरती के गर्भ से शिवलिंग मिलने पर गांव में श्रद्धालुओं का तांता लग गया। पुरातत्व विभाग के अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए।

पुरातत्व विभाग की मानें तो खुदाई के दौरान मिली मूर्तियां भोज काल में बनी हुई है, जबकि खुदाई के दौरान मिली ईंटे कुषाण काल से संबंधित बताई जा रही है। पुरातत्व विभाग के मुताबिक, शिवलिंग, नंदीगण और स्तंभ 8वीं या 9वीं सदी में निर्मित होती थी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here