TMC सांसद मिमी चक्रवर्ती ने सदन में दिए जयाबच्चन के बयान पर सहमति जताते हुए कहा- “ऐसे अपराधों में तत्काल सजा की जरूरत”

0
15

हरियाणा न्यूज:  हैदराबाद गैंगरेप और हत्या मामले की आवाज देश के संसद भवन से लेकर सड़कों तक गूंज उठी है। अब सवाल उठने शुरू हो गए है कि, कब देश में महिलाएं सहज महसूस करेगी? संसद के शीतकालीन सत्र के 11 वे दिन की कार्यवाही के दौरान संसद में भी महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाए गए। सभी दलों ने देश में महिलाओं के प्रति बढ़ते घिनोने अपराध की कड़ी निंदा की।

वहीं, राज्यसभा सांसद जयाबच्चन ने सदन मं कहा कि, चाहे निर्भया हो या कठुआ, सरकार को उचित कार्यवाही करनी चाहिए। जिन लोगों ने ऐसा किया, उनकी सार्वजनिक तौर पर लिंचिंग करनी चाहिए। जिन पुलिसकर्मियों ने लापरवाही बरती है, उनका नाम सार्वजनिक किया जाना चाहिए और उनको शर्मिंदा किया जाना चाहिए। उन्होने आगे कहा कि, कुछ देशों में जनता दोषियों को खुद सजा देती है। दोषियों को अब जनता ही सबक सिखाए। उन्होंने कहा कि, दोषियों की सार्वजनिक लिंचिंग होनी चाहिए।

बता दें कि, सदन में दिए गए जया बच्चन के बयान पर सहमति जताते हुए TMC सांसद मिमी चक्रवर्ती ने कहा कि, पशुचिकित्सक के बलात्कार और हत्या के बाद “बलात्कारियों को दंडित किया जाना चाहिए”। मैं उनसे ( जयाबच्चन) सहमत हूं। मुझे नहीं लगता कि हमें बलात्कारियों को संरक्षण के साथ अदालतों में ले जाने और न्याय की प्रतीक्षा करने की आवश्यकता है। ऐसे अपराधों में तत्काल सजा की जरूरत है।  

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here