बेरोजगारी की मार: ‘MBA करने वाले युवक को खलासी और MSC डिग्रीधारक को करनी पड़ रही सफाईकर्मी की नौकरी’

0
147
प्रतीकात्मक तस्वीर।

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) के सांसद ए राजा ने सोमवार को लोकसभा में दावा किया कि देश में बेरोजगारी की स्थिति यह है कि एमबीए डिग्रीधारी युवक को रेलवे में खलासी (हेल्पर) और गणित से एमएससी की पढ़ाई करने वाले छात्र को मद्रास नगर निगम में सफाईकर्मी की नौकरी करनी पड़ रही है। ऐसे में सरकार को रोजगार बढ़ाने के लिए प्रयास करने चाहिए।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग कर खलासी की नौकरी करने को मजबूर

पीटीआई के मुताबिक, लोकसभा में देश में पंजीकृत बेरोजगार व्यक्तियों की संख्या में वृद्धि से जुड़ा पूरक सवाल पूछने के दौरान ए राजा ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि बेरोजगारी की स्थिति यह है कि एमएसी (गणित) की पढ़ाई करने वाले एक छात्र को मद्रास नगर निगम में सफाईकर्मी की नौकरी करनी पड़ी। उन्होंने कहा कि मैकेनिकल इंजीनियरिंग और एमबीए डिग्रीधारी युवक को रेलवे में खलासी के तौर पर काम करना पड़ रहा है।

सरकार ने दिया जवाब

इस पर श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने कहा कि इस सरकार में लोगों को बड़े पैमाने पर रोजगार मिला है और इसके साथ ही यह सरकार लोगों को रोजगार देने के लायक बनाने की दिशा में काम कर रही है। पूरक सवाल पूछते हुए अदूर प्रकाश ने सरकार से बेरोजगारी की स्थिति पर श्वेत पत्र लाने की मांग की। इसके जवाब में गंगवार ने कहा कि सदस्य बेरोजगारी को लेकर जो आंकड़े चाहते हैं वो उन्हें उपलब्ध करा दिए जाएंगे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here