कोरोना के कारण आयकर रिटर्न दाखिल करने की आखिरी तारीख 30 जून तक बढ़ी, किसी भी ATM से पैसे निकालने पर नहीं लगेगा कोई चार्ज

0
80

दुनियाभर के बाद अब भारत में भी कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण लोगों की कठिनाइयों को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने आयकर रिटर्न भरने की आखिरी तारीख बढ़ाकर 30 जून कर दी है। यह जानकारी केंद्रीय वित्त मंत्रालय की ओर से मंगलवार को दी गई। इसके अलावा डेबिट कार्ड धारक अगले तीन महीनों तक किसी भी बैंक के एटीएम से पैसे निकाल सकेंगे जिसपर कोई चार्ज नहीं लगेगा।

साथ ही, कुछ महीनों तक बैंक खाते में मिनिमट बैलंस का शर्त से भी छूट दी गई है। वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए मीडिया को संबोधित करते हुए वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि सरकार ने टीडीएस जमा में विलंब पर ब्याज दर 18 फीसदी से घटाकर नौ फीसदी कर दिया है।

वित्त मंत्री ने बताया कि इनकम टैक्स और जीएसटी फाइल करने के समय में छूट दी गई है। उन्होंने बताया कि वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए आयकर रिटर्न भड़ने की अंतिम तारीख को 31 मार्च से बढ़ाकर 30 जून, 2020 कर कर दिया गया है। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि लेट फाइन करने पर पर 12 की जगह सिर्फ 9 प्रतिशत ब्याज देना होगा।

इसके अलावा सरकार ने आधार और पैन को लिंक करने की आखिरी तारीख भी 31 मार्च से बढ़ाकर 30 जून कर दी है। कोरोना वायरस के संक्रमण की बढ़ती संख्या को देखते हुए देश में आर्थिक गतिविधियां थम सी गई है और राज्यों ने लॉकडाउन कर रखा है। इन हालात को देखते हुए सरकार ने आयकरदाताओं को आयकर रिटर्न भरने की अवधि बढ़ाकर राहत दी है।वित्त मंत्री ने कहा कि जल्द ही आर्थिक पैकेज की घोषणा की जाएगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here