कोरोना संकट के बीच RBI गवर्नर ने किया राहत का बड़ा ऐलान, पढ़िए मुख्य बातें

0
481

पूरी दुनिया इस समय कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में है। जिसके चलते भारत में भी 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान कर दिया गया है। जिसका भारी असर अर्थव्यवस्था पर देखने को मिल रहा है। लोगों को राहत देने के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकारें बड़े-बड़े ऐलान कर रही है। ऐसे समय में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके रेपो और रिवर्स रेपो रेट में कटौती का ऐलान किया।

RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि RBI ने रेपो रेट में 75 बेसिस प्वॉइंट की कटौती की है। इसके बाद रेपो रेट 4.44 पर आ गया है। रिवर्स रेपो रेट में 90 बेसिस प्वॉइंट की कटौती की गई है। RBI गवर्नर ने कहा कि कोरोना संकट की वजह से देश के कई क्षेत्रों में असर पड़ा है। इकॉनमी को मजबूत बनाए रखने वाले हम निर्णय कर रहे हैं। RBI ने कैश रिजर्व रेशियो (CRR) में 100 बेसिस प्वॉइंट की कटौती की है। इसके बाद यह तीन फीसदी पर आ गया है। वहीं, RBI ने बड़ा फैसला लेते हुए सभी टर्म लोन पर 3 महीने का मोरोटोरियंम लगा दिया है। ऐसे में डिफॉल्ट होने की स्थिति में कर्जदार की क्रेडिट हिस्ट्री में नहीं दिखेगी।

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि कोरोना वायरस के चलते अर्थव्यवस्था को होने वाले खतरे को देखते हुए मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी ने समय से पहले ही समीक्षा बैठक की। बैठक में 4 सदस्य बड़ी कटौती के पक्ष में थे। जिसके बाद यह फैसला लिया गया।

RBI गवर्नर ने कहा कि दूसरी छमाही में 4.4 फीसदी ग्रोथ हासिल करना चुनौतीपूर्ण है। शक्तिकांत दास ने कहा कि कोरोना की वजह से मांग में काफी कमी आई है। कोरोना से ग्रोथ, महंगाई में काफी बदलाव संभव है। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय जैसी अस्थिरता कभी नहीं देखी गई।

साथ ही RBI गवर्नर ने बैंकों से लोन की EMI दे रहे लोगों को 3 महीने तक के राहत की सलाह दी है। यहां बता दें कि RBI ने आदेश नहीं, सिर्फ सलाह दी है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here