भीषण गर्मी के बीच ग्रामीणों को नहीं मिल रहा पीने का पानी, लेना पड़ा रहा टैंकरों का सहारा

0
78

हरियाणा न्यूज: कोरोना जैसी महामारी, लगातार बढ़ता तापमान अगर ऐसे में पीने का पानी न मिले तो आम जान का क्या हाल होगा। झज्जर उपमंडल बेरी के गांव धौड़ में लंबे समय से पीने के कम पानी की समस्या लगातार बनी हुई है। ग्रामीणों ने कई बार प्रशासन को इस बारे में बार-बार अवगत भी करवाया है लेकिन कोई समाधान नहीं हुआ। बार-बार प्रशासन को अवगत कराने के बावजूद भी ग्रामीणों को पानी नहीं मिल पा रहा है इस भीषण गर्मी में बिना पानी के लोगों का जीन मुहाल होग या है। न पिने का पानी है न पशुओं के पिने के पानी है आखिर लोग करें तो क्या? वहीं अधिकारी इस मामले में कोई बात करने को तैयार नहीं हैं।

इसको लेकर ग्रामीणों का कहना है की बेरी के साथ लगती नहर से पानी की पाईप लाइन बिछायी गयी है। लेकिन पानी बिजली ना होने के कारण जल घर तक नहीं पहुंच पा रहा है। जिसके चलते ग्रामीणों को पानी नहीं मिल पा रहा है। ग्रामीणों का यह भी आरोप है की जलघर का मरम्मत का कार्य किया गया था। जिसमे अच्छी सामग्री का उपयोग नहीं किया गया। पुराने भवन, तालाब व कुओं की मरमत की गई है जबकि ये सब नया बनाना था।

लेकिन फिलहाल जैसे भी ग्रामीणों को पानी मिल जाये इसी जुगत में लगे हुए हैं। ताकि गर्मी में पानी की किल्लत ना सहन करनी पड़े। लोगों का कहना है की हमें पीने के लिए करीब 2 किलोमीटर दूर से पानी लाना पड़ता है या फिर निजी पानी सप्लाई करने वालों से टैंकर मंगवाना पड़ता है। जिसमें करीब 500 रूपये प्रति टैंकर का खर्चा आता है और उस पानी को स्टोर रखने के लिए टैंक की भी जरूरत होती है l

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here