कोरोना संकट: PM मोदी ने यूपी-बिहार और बंगाल समेत इन राज्यों से की टेस्टिंग बढ़ाने की अपील

0
54
फाइल फोटो।

कोरोना संकट को लेकर मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने मंगलवार को 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि जिन राज्यों में टेस्टिंग रेट कम है और जहां पॉजिटिविटी रेट ज्यादा है, वहां टेस्टिंग (कोरोना की) बढ़ाने की जरूरत सामने आई है। उन्होंने कहा कि खासतौर पर बिहार, गुजरात, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और तेलंगाना में टेस्टिंग बढ़ाने पर खास बल देने की बात इस समीक्षा में निकली है।

पीएम मोदी ने कहा कि अस्पतालों पर दबाव, हमारे स्वास्थ्य कर्मियों पर दबाव, रोजमर्रा के काम में निरंतरता का ना आ पाना, ये हर दिन एक नई चुनौती लेकर आते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, पंजाब, बिहार, गुजरात, तेलंगाना और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों के साथ कोरोना वायरस पर चर्चा की।

पीएम बोले- 10 राज्यों में है 80 फीसदी एक्टिव केस

पीएम मोदी ने कहा कि आज 80 प्रतिशत एक्टिव मामले इन 10 राज्यों में हैं, इसलिए कोरोना के खिलाफ लड़ाई में इन सभी राज्यों की भूमिका बहुत बड़ी है। आज देश में एक्टिव मामले 6 लाख से ज्यादा हो चुके हैं, जिनमें से ज्यादातर मामले हमारे इन 10 राज्यों में ही हैं। इसीलिए ये आवश्यकता थी, ये 10 राज्य एक साथ बैठकर समीक्षा और चर्चा करें।

उन्होंने कहा कि अब तक का हमारा अनुभव है कि कोरोना के खिलाफ कंटेनमेंट, कांटेक्ट ट्रेसिंग और सर्विलांस, सबसे प्रभावी हथियार है! अब जनता भी इस बात को समझ रही है, लोग सहयोग कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि टेस्टिंग की संख्या बढ़कर हर दिन 7 लाख तक पहुंच चुकी है और लगातार बढ़ भी रही है। इससे संक्रमण को पहचानने और रोकने में जो मदद मिल रही है, आज हम देख रहे हैं। हमारे यहां औसत मृत्यु दर पहले भी दुनिया के मुकाबले काफी कम थी, संतोष की बात है कि ये लगातार और कम हो रही है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here