SC ने हाथरस मामले पर लिया बड़ा फैसला, कहा- कानून पर कानून बनना असंभव

0
114

सुप्रीम कोर्ट ने आज यानी बुधवार को मीडिया में हाथरस पीड़ित की फोटो छापने पर सवाल उठाने वाली याचिका पर विचार करने से इनकार कर दिया है। वहीं कोर्ट ने कहा कि हम कानून पर कानून नहीं बना सकते है और साथ ही कोर्ट ने याचिकाकर्ता को केंद्र के समक्ष एक प्रतिनिधित्व दायर करने को कहा है।

दरअसल, हाथरस मामले में 19 सितंबर को हाथरस में 4 आरोपियों ने 19 वर्षीय दलित युवती के साथ कथित रूप से सामूहिक बलात्कार किया गया था। इसके बाद इलाज के दौरान 29 सितंबर को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में उसकी मृत्यु हो गई थी। इसके बाद यूपी पुलिस ने कथित तौर पर उसके माता-पिता की सहमति के बिना रात में उसका दाह संस्कार कर दिया था। जिसके बाद देश में इस मामले को लेकर काफी आक्रोश फैल गया था।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने आगे कहा कि हम इसके लिए कानून पर कानून नहीं बना सकते हैं। कोर्ट ने कहा कि याचिकाकर्ता सरकार का प्रतिनिधित्व कर सकता है। 27 अक्टूबर को शीर्ष अदालत ने कहा था कि हाथरस मामले की CBI जांच इलाहाबाद हाईकोर्ट की निगरानी में की जाए और CRPF पीड़ित परिवार और मामले के गवाहों को सुरक्षा प्रदान करेगी। साथ ही कोर्ट ने अक्टूबर में इस घटना पर चिंता जताते हुए फैसला सुनाया था।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here