हिसार के लघु सचिवालय के बाहर पांच जिलों के किसानों ने प्रदर्शन किया, रखी कई मांगे

0
144

हरियाणा न्यूज: हिसार के लघु सचिवालय के बाहर पांच जिलों के किसानों ने प्रदर्शन किया। हिसार, सिरसा, भिवानी, फतेहाबाद और जींद के किसान प्रदर्शन में शामिल हुए। किसानों ने लघु सचिवालय स्थित कमिश्नर कार्यालय के घेराव का एलान किया था। जिला प्रशासन ने लघु सचिवालय के गेट बंद कर पुलिस फ़ोर्स और आरएएफ को तैनात किया। किसानों और प्रशासन के बिच हलकी धक्का मुक्की भी हुई।

किसानों की पांच प्रमुख मांगे रही। इन मांगों में गुलाबी सुण्डी  से ख़राब हुई फसलों की जल्द स्पेशल गिरदावरी करवाते हुए मुआवजा देने, डीएपी की आपूर्ति सुनिश्चित करवाए जाने, बाजरा और मुंग की सरकारी खरीद किए जाने, डीजल पैट्रोल की कीमत काम किए जाने और कृषि कानूनों को वापिस लिए जाने की रही। 

किसान सभा के वित्त सचिव और संयुक्त किसान मोर्चा के ऑल इंडिया कमिटी के सदस्य पी कृष्णा प्रसाद ने कहा की किसानों की कपास की फसल सुंडी और बेमौसम बारिश से ख़राब हुई है। ऐसे में किसानों को 50  से 60 हजार का नुकसान हुआ है और किसान कर्जे में डूबता जा रहा है लेकिन सरकार अंधी हो चुकी है। उन्होंने कहा की बार बार मांग किए जाने के बाद भी सरकार गिरदावरी नहीं करवा रही है और किसानों को मुआवजा नहीं दिया जा रहा। पी कृष्णा ने सरकार पर आरोप लगते हुए कहा की प्राइवेट कम्पनियां  बीज और डीएपी खाद की जमाखोरी सरकार के साथ मिलकर दाम बढ़ाने के लिए करती हैं। यदि सरकार ने किसानों की मांगे जल्द नहीं मानी तो खंड स्तर पर किसान प्रदर्शन करेंगे। 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here