भारत की आपत्ति के बाद झुका अमेरिका, ट्रंप के बयान पर व्हाइट हाउस ने दी सफाई

0
330

हरियाणा न्यूज: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ व्हाइट हाउस में मुलाकात के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कश्मीर मसले में मध्यस्थता का ऑफर दिया। इमरान खान ने कश्मीर का मुद्दा उठाया तो डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वह मध्यस्थता करने के लिए तैयार हैं, साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने भी उन्हें मध्यस्थता करने को कहा था। लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कश्मीर मुद्दे पर बयान को लेकर जहां देश में राजनीति पूरी तरह से गरमा गई है।

वहीं, कश्मीर पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के झूठ पर भारत की आपत्ति के बाद अमेरिका झुक गया है। अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी करके कश्मीर मुद्दे को द्विपक्षीय मुद्दा बताया है। विदेश मंत्रालय ने कहा है कि कश्मीर भारत-पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय मुद्दा है, इसे दोनों देशों को आपसी समन्वय से सुलझाना होगा। डोनाल्ड ट्रंप पर जम्मू-कश्मीर मुद्दे को लेकर दिए बयान पर भारत ने कड़ी आपत्ति जताई थी। इस मामले में अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने कहा कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान के बीच का दिवपक्षीय मुद्दा है।

भारत और पाकिस्तान को मिलकर इस पर बात करनी होगी। अमेरिका इस बात का स्वागत करता है कि भारत और पाकिस्तान आपस में मिलकर यह मुद्दा सुलझाएं। आपको बता दें कि ट्रंप ने कहा कि, “मैं दो सप्ताह पहले भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ था। इस मसले पर बात हुई और उन्होंने कश्मीर मुद्दे पर मदद मांगी थी। मैंने कहा कि अगर मुझे मध्यस्थता का मौका मिलेगा तो जरूर मदद करूंगा।”

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here