दुनिया में बजा भारत का डंका, तो विश्व कप का टूटा सपना, कभी खुशी तो कभी गम से भरा रहा टीम इंडिया के लिए ‘2019’

0
339

साल 2019 को अब अलविदा कहने का समय आया और 2020 के स्वागत में सभी लोग जमकर तैयारियां करने में जुटे है। साल 2019 खेलों के लिहाज से बेहद ही शानदार रहा है। बात चाहे क्रिकेट की हो या बॉक्सिंग की। हर क्षेत्र में भारतीय खिलाड़ियों ने दुनियाभर में तिरंगा लहराया है।

विश्व कप का टूटा सपना

वर्ल्ड कप हर खिलाड़ी हर टीम का सपना होता है। कई सालों से इसकी तैयारी होती है। टीम मैनेजमेंट से लेकर कप्तान तक कई सालों से इस पर मंथन करते हैं। वर्ल्ड से पहले किसी भी टीम का सारा फोकस इसी के इर्द गिर्द घुमता है। टीम इंडिया भी विश्व कप की तैयारी काफी पहले से कर रही थी। इंग्लैंड में आयोजित होने वाले विश्व कप में भारत की शुरुआत अच्छी रही। टीम इंडिया ने चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान को भी एकतरफा हराया। ऑस्ट्रेलिया हो दक्षिण अफ्रीका कोई भी भारत के टक्कर में नहीं थी लेकिन सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड ने भारत के सपने को तोड़ दिया। मार्टिन गुप्टिल का शॉर्ट फाइन लेग से किया गया वो थ्रो आज भी जब क्रिकेट फैंस को याद आता है तो जख्म ताजा हो जाते हैं।

विश्व कप 2019  का टूटा सपना के लिए इमेज परिणाम

टीम इंडिया को इस वर्ल्ड कप का सबसे मजबूत दावेदार माना जा रहा था लेकिन भारतीय टीम का सफर सेमीफाइनल में समाप्त हो गया। इस वर्ल्ड कप में दुनिया को नया वर्ल्ड चैम्पियन मिला। इंग्लैंड ने पहली बार वर्ल्ड कप की ट्रॉफी पर कब्जा जमाया वो भी उसी न्यूजीलैंड की टीम को मात देकर जिसने भारत को टूर्नामेंट से आउट किया था।

नंबर 4 बना सिरदर्द

जब विश्व कप के लिए टीम सेलेक्शन हुआ था तब कुछ खिलाड़ियों को इसमें जगह नहीं मिली थी। इन कुछ धुरंधरों को एक रिजर्व लिस्ट में रख दिया गया था। इसमें अंबाती रायडू का नाम भी शामिल था लेकिन जब धवन चोटिल हुए तो अंबाती रायडू को नहीं बल्कि रिषभ पंत को तरजीह दी गई। अंबाती रायडू का ना सिर्फ बल्लेबाजी में अनुभवी थे बल्कि उनका फॉर्म भी अच्छा था लेकिन ऐसा क्या हुआ कि 19 साल के रिषभ पंत को विश्व कप जैसे बड़े टूर्नामेंट के लिए तरजीह दी गई?

shreyas iyer vs pant के लिए इमेज परिणाम

इसके बाद जिस खिलाड़ी को अंबाती रायडू के ऊपर तरजीह देते हुए 3D प्लेयर बोलकर विश्व कप टीम में शामिल किया गया था, वो भी चोटिल हो गए। ये थे जनवरी में ही अपने वनडे करियर की शुरुआत करने वाले विजय शंकर सबको लगा कि चलो अब तो रायडू को बुलावा भेजा जाएगा। लेकिन फिर अनोखा करिश्मा हुआ और रिजर्व लिस्ट से हटकर मयंक अग्रवाल को इंग्लैंड बुला लिया गया।

टीम इंडिया का बजा डंका

टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज जीतकर साल खत्म किया है। 2019 के वर्ल्ड कप को छोड़ दें तो टीम इंडिया के लिए यह साल काफी अच्छा रहा। टेस्ट हो या वनडे हर जगह टीम इंडिया ने शानदार प्रदर्शन किया। भारतीय टीम ने इस साल तीनों फॉर्मेट को मिलाकर सबसे ज्यादा 35 मैच जीते। लगातार चौथे साल टीम जीत के मामले में टॉप पर रही। इस साल टीम ने 7 टेस्ट, 19 वनडे और 9 टी-20 सहित 35 मुकाबले जीते। ऑस्ट्रेलिया टीम 30 जीत के साथ दूसरे पर रही। तीनों फॉर्मेट में सबसे ज्यादा रन बनाने की बात की जाए तो कप्तान विराट कोहली पहले और रोहित शर्मा दूसरे नंबर पर है। अगर सिर्फ टेस्ट क्रिकेट की बात की जाए तो 2019 में टीम इंडिया ने एक भी मुकाबला नहीं गंवाया। भारत ने 8 में से 7 मुकाबले जीते जबकि 1 ड्रॉ रहा।

team india के लिए इमेज परिणाम

विश्व क्रिकेट में छाए भारतीय खिलाड़ी

भारतीय टीम 2019 में चमकी तो उसके पीछे बड़ा कारण था खिलाड़ियों की लाजवाब परफॉर्मेंस। कोहली या रोहित सबका बल्ला चला। इन दोनों के अलावा मयंक अग्रवाल, शिवम दूबे जैसे नए खिलाड़िय़ों ने अपनी छाप छोड़ी। गेंदबादी में मोहम्मद शमी का जलवा रहा तो जसप्रीत बुमराह बल्लेबाजों के लिए अब तक अबुझ पहेली बने हुए हैं। रविंद्र जडेजा ने वनडे में फिर से वापसी करके दिखा दिया की उनकी गेंदबाजी की धार अभी खत्म नहीं हुई है। नवदीप सैनी ने भी अपनी गति से सबको प्रभावित किया। कुल मिलाकर कहें तो भारतीय खिलाड़ियों का जलवा अब भी बरकरार है।

संबंधित इमेज

टेस्ट मैचों की बात करें तो यहां युवा बल्लेबाज मयंक ग्रवाल का दबदबा देखने को मिला। अग्रवाल ने इस बार सबसे ज्यादा 754 रन बनाए। वहीं, टेस्ट मैचों में विराट कोहली 254 रनों के साथ एक पारी में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बने। वहीं, रोहित शर्मा ने इस बार वनडे क्रिकेट को अपने नाम किया। रोहित ने रंगीन कपड़ों की क्रिकेट में 1,490 रन बनाए। गेंदबाजी की बात करें तो मोहम्मद शमी ने साल 2019 अपने नाम किया। उन्होंने इस साल कुल 42 विकेट अपने नाम किए।

rohit , shami and virat के लिए इमेज परिणाम

विवाद भी रहे साथ

दर्ज हो गए हैं तो वहीं कुछ ऐसे विवाद भी हुए जो चर्चा का विषय बने रहे। कुछ ऐसे भी विवाद रहे जो काफी सुर्खियों में रहे। इस साल का सबसे विवादित किस्सा रहा आईपीएल का। जहां एक मुकाबले में ऐसा कुछ घटा जिसे देखकर हर कोई हैरान रह गया। आईपीएल के 12वें सीजन का चौथा मुकाबला किंग्स इलेवन पंजाब और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेले जा रहा था।

इस मुकाबले में इंग्लैंड के धाकड़ बल्लेबाज जोस बटलर को पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन बिना चेतावनी दिए मांकेडिंग से रन आउट कर दिया। अश्विन के हाथ से गेंद छूटने से पहले ही बटलर रन के लिए क्रीज से बाहर निकल गए थे मौके को देखकर अश्विन ने उन्हें रन आउट कर दिया।

टीम इंडिया के हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या और केएल राहुल के लिए भी साल की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी। साल के शुरुआत में दोनों टीवी शो कॉफ़ी विद करण में बतौर गेस्ट शामिल हुए थे। वहां उन्होंने इंटरव्यू के दौरान महिलाओं को लेकर एक विवादित बयान दे दिया। इसके बाद मीडिया में इसकी काफी आलोचना भी हुई। बीसीसीआई ने इसके बाद दोनों खिलाड़ियों पर कुछ समय के लिए बैन लगा दिया।

dhoni batch के लिए इमेज परिणाम

क्रिकेटर के अलावा देश की सेना में लेफ्टिनेंट पद हासिल करने वाले महेंद्र सिंह धोनी को अपनी बटालियन के बलिदान बैज लोगो के कारण क्रिकेट के मैदान में विवाद का सामना करना पड़ा। दरअसल धोनी ने अपने विकेटकीपिंग दस्तानों में बलिदान बैज बनवा रखा था। जिसको लेकर उन्हें विवाद का सामना करना पड़ा और बाद में उन्हें अपने दस्ताने बदलने भी पड़े थे। इस तरह धोनी का बलिदान बैज विवाद भी सोशल मीडिया में काफी ट्रेंड किया था।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here