शुभेंदु के गढ़ में ममता पेश करेंगी सीधी चुनौती, किया नंदीग्राम से चुनाव लड़ने का ऐलान

0
482

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले सियासी पारा चढ़ने लगा है। बता दें कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को आगामी चुनाव में उसी नंदीग्राम विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने का ऐलान किया। जहां से 2016 में उनके खास रहे शुभेंदु अधिकारी चुनाव जीते थे।

दरअसल, शुभेंदु हाल ही में तृणमूल कांग्रेस (TMC) छोड़कर भाजपा में शामिल हुए हैं और पूर्वी मिदनापुर स्थित नंदीग्राम को शुभेंदु का गढ़ माना जाता है। आज यहां रैली के दौरान ममता ने कहा कि “किसी के पाला बदलने से कोई फर्क नहीं पड़ता और जब TMC का गठन हुआ था, तब इनमें से कोई भी पार्टी के साथ नहीं था। अगर संभव हुआ तो मैं नंदीग्राम और भवानीपुर दोनों जगहों से चुनाव लड़ूंगी”।

नंदीग्राम से ममता के चुनाव लड़ने के मायने

वहीं, दूसरी ओर मिदनापुर में शुभेंदु के परिवार का वर्चस्व है और उनके पिता कांग्रेस से विधायक और सांसद रह चुके हैं। वे UPA सरकार में ग्रामीण विकास राज्य मंत्री थे और अभी तृणमूल से सांसद हैं। शुभेंदु खुद लगातार विधायक और सांसद का चुनाव जीतते आ रहे हैं। शुभेंदु के एक भाई सांसद और दूसरे नगरपालिका अध्यक्ष हैं। इस परिवार का 6 जिलों की 80 से ज्यादा सीटों पर असर है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here